अब ऐसे दिखते हैं कादर खान, पहचानते हैं सभी को पर बोलने में होती है दिक्कत

जालंधर – कई बॉलीवुड फिल्मों में अलग-अलग किरदार निभाने वाले कादर खान इन दिनों कनाडा में अपने बेटे-बहू के साथ रहते हैं। अब वे सहारे के बिना चल नहीं पाते हैं और उन्हें बोलने में भी तकलीफ होती है। हाल ही में उनकी बहू शाइस्ता खान ने एक इंटरव्यू में बताया कि उनको अब बोलने में दिक्कत होती है। वे सिर्फ उन्हें और बेटे सरफराज की बातों को ही समझ पाते हैं। उन्होंने बताया कि कादर खान पहचान सभी को लेते हैं।
79 साल के हैं कादर खान…
कादर खान 79 साल के हो गए हैं। शाइस्ता कहती हैं कि वे अपनी दोनों बेटियां साइमा और हम्जा के साथ मिलकर उनकी देखभाल बच्चों की तरह करती हैं। ताकि उन्हें किसी प्रकार की असुविधा ना हो।
इन फिल्मों में किया कादर खान ने काम
कादर खान ने अपने करियर की शुरुआत 1972 में आई फिल्म ‘दाग’ से की थी। इसके अलावा उन्होंने ‘अदालत’ (1976), ‘परवरिश’ (1977), ‘दो और दो पांच’ (1980), ‘याराना’ (1981), ‘खून का कर्ज’ (1991), ‘दिल ही तो है’ (1992), ‘कुली नं. 1’ (1995), ‘तेरा जादू चल गया’ (2000), ‘किल दिल’ (2014) सहित कई फिल्मों में काम किया है। वे आखिरी बार 2015 में आई फिल्म ‘हो गया दिमाग का दही’ में नजर आए थे।
कादर खान के बेटे सरफराज ने कुछ दिनों पहले दिए एक इंटरव्यू में बताया था कि उनके पिता को चलने में दिक्कत होती है। उन्हें चलने के लिए दोनों तरफ से सहारा दिया जाता, इसके बाद ही वे चल पाते है। उन्होंने बताया कि कुछ कदम चलने के बाद वे बैठने के लिए कहते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि यदि वे ज्यादा देर चलेंगे तो गिर जाएंगे। सरफराज कहते हैं कि उन्होंने फादर के घुटने की सर्जरी भी करवाई है। सर्जरी कामयाब रही और डॉक्टर ने ऑपरेशन के दूसरे ही दिन उन्हें चलने की सलाह दी थी, लेकिन उनके वालिद ही चलने की हिम्मत नहीं जुटा पाए।
कादर खान इंडिया आएंगे और क्या दोबारा फिल्मों में काम करेंगे के सवाल पर सरफराज ने कहा उनके पास कनाडा की नागरिकता है। वे इंडिया जाएंगे, लेकिन फिल्मों में काम नहीं कर पाएंगे। उनका इंडस्ट्री से मोहभंग हो गया है। कादर का इंडस्ट्री से मोहभंग क्यों हो गया, सवाल पर सरफराज ने कहा अब इंडस्ट्री का माहौल बदल गया है। दोस्ती यारी खत्म हो गई है। अब लोग सिर्फ काम से काम रखते हैं। उनके कुछ चाहने वालों ने उन्हें काम के लिए कहा भी, लेकिन वे अपनी बात पर अटल हैं और अब काम फिल्मों में काम नहीं करना चाहते हैं। क्या वे अपने दोस्त गोविंदा और शक्ति कपूर को पहचानते हैं, सरफराज ने कहा हां वे पहचानते है, लेकिन बहुत स्लो बोलते हैं। उन्हें बात करने में तकलीफ होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *