अमेरिकी नौसेना के कमांडर ने वैक्सीन लगवाने से किया इनकार, हुआ बर्खास्त

0
208

Image Source : PTI
अमेरिका में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले

Highlights

  • कमांडर ने जांच कराने से भी किया इनकार
  • टीका लगवाने से इनकार करने पर बर्खास्त किये गए नौसेना के पहले अधिकारी हैं
  • सबसे अधिक मामलों और मौतों के साथ अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित देश बना हुआ है

वाशिंगटन:  पूरे विश्व में  कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन का खतरा देखने को मिल रहा है। सभी देश तेज गति से कोरोनारोधी टीकाकरण करने में लगे हुए हैं वहीं अमेरिका से एक अजीबोगरीब खबर सामने आ रही है। अमेरिकी नौसेना के एक कमांडर को कोविड-19 रोधी टीका लगवाने और जांच कराने से इनकार करने पर युद्धपोत के कार्यकारी अधिकारी के पद से बर्खास्त कर दिया गया है। नौसेना के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। नौसेना के कैप्टन व ‘नेवल सर्फेस स्क्वॉड्रन 14’ के कमांडर केन एंडरसन ने कमांडर लूसियन किंस को विध्वंसक युद्धपोत यूएसएस विंस्टन चर्चिल पर उनके कर्तव्यों से मुक्त कर दिया। 

अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि किंस टीका लगवाने से इनकार करने पर बर्खास्त किये गए नौसेना के पहले अधिकारी हैं। नौसेना के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कमांडर जेसन फिशर ने गोपनीयता संबंधी चिंताओं का हवाला देते हुए किंस को कमान से मुक्त करने का सटीक कारण बताने से इनकार कर दिया। फिशर ‘नेवल सर्फेस फोर्स अटलांटिक’ के प्रवक्ता हैं। उन्होंने कहा कि बर्खास्तगी का कारण यह था कि किंस ने कानूनी आदेश का पालन करने में विफल रहने के बाद अपने कर्तव्यों को निभाने में अक्षमता प्रकट की। 

कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट के खतरा लगातार बढ़ रहा है। इस बीच विश्व में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 26.9 करोड़ हो गए हैं। वहीं अब तक महामारी की चपेट में आए 52.9 लाख से ज्यादा लोग जान गवा चुके हैं जबकि 8.37 अरब से ज्यादा लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है। 

जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, मौजूदा समय में कोरोना के वैश्विक मामले 269,110,185 पहुंच गए हैं। वहीं मौत का आंकड़ा 5,294,933 और टीकाकरण की संख्या 8,372,664,881 हो गई है। दुनिया के सबसे ज्यादा मामलों और मौतों के साथ अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित देश बना हुआ है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here