कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए वियतनाम को कोवैक्सीन की 2 लाख डोज दान करेगा भारत बायोटेक

0
101

Image Source : PTI
वियतनाम को कोवैक्सीन की 2 लाख डोज दान करेगा भारत बायोटेक

Highlights

  • यह घोषणा हैदराबाद स्थित कंपनी के संयुक्त प्रबंध निदेशक सुचित्रा एला ने की
  • भारत बायोटेक को पहले ही वियतनाम में यूईएल मिल चुका है
  • भारत बायोटेक को वियतनाम के दूतावास द्वारा नेशनल असेंबली के अध्यक्ष के साथ बैठक के लिए आमंत्रित किया गया था

नई दिल्लीः भारत बायोटेक ने गुरुवार को घोषणा की कि वह वियतनाम को कोविड-19 वैक्सीन कोवैक्सीन की दो लाख खुराक दान करेगा। यह घोषणा हैदराबाद स्थित कंपनी के संयुक्त प्रबंध निदेशक सुचित्रा एला ने नई दिल्ली में दक्षिण पूर्व एशियाई देश के नेशनल असेंबली के अध्यक्ष वुओंग दिन्ह ह्यू द्वारा आयोजित एक समारोह में की।

वैक्सीन निर्माता ने कहा कि यह दान भारत बायोटेक के डब्ल्यूएचओ द्वारा अनुमोदित स्वदेशी रूप से विकसित कोवैक्सीन को सीमाओं के पार कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए पहुंच प्रदान करने के लिए सद्भावना के एक संकेत का प्रतिनिधित्व करता है।

भारत बायोटेक को पहले ही वियतनाम में यूईएल मिल चुका है। भारत बायोटेक को वियतनाम के दूतावास द्वारा नेशनल असेंबली के अध्यक्ष के साथ बैठक के लिए आमंत्रित किया गया था, ताकि सहयोग, आपूर्ति और प्रौद्योगिकी हस्तांतरण की संभावनाओं पर चर्चा की जा सके।

एला ने कहा कि वियतनाम की सेवा करना उनके लिए सम्मान की बात है। कोवैक्सीन के योगदान से देश के राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम को बढ़ावा देने और महामारी से उबरने में मदद मिलेगी।

भारत बायोटेक के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक डॉ. कृष्णा एला ने कहा, “हम वैक्सीन इक्विटी, वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य में विश्वास करते हैं और वैक्सीन तक पहुंच राष्ट्रीय स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है और मुझे उम्मीद है कि वियतनाम गणराज्य में हर कोई व्यापक रूप से प्रशासित, सुरक्षित और प्रभावोत्पादक कोवैक्सीन का लाभ उठाएगा।”

भारत बायोटेक ने 2 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए कोवैक्सीन के चरण-2 और चरण-3 के परीक्षण पूरे कर लिए हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here