चीन ने किया अमेरिका का स्वागत, कहा- उत्तर कोरिया पर वार्ता को तैयार

बीजिंग/सियोल (रॉयटर्स)। चीन ने गुरुवार को उत्तरी कोरिया के परमाणु और मिसाइल संकट पर अमेरिका के नरम रूख का स्वागत किया, लेकिन दक्षिण कोरिया में तैनात एक अमेरिकी मिसाइल डिफेंस सिस्टम पर आपत्ति जताई। चीन ‘कोरियाई परमाणु मुद्दे’ को हल करने के लिए लंबे समय से बातचीत का दवाब बना रहा है, क्योंकि उत्तर कोरिया बार-बार संयुक्त राज्य को नष्ट करने की धमकी दे रहा है।

ट्रंप प्रशासन ने कहा था कि उत्तर कोरिया की उकसावे वाली कार्यवाही से निपटने के लिए ‘सभी विकल्प’ खुले हुए है। ट्रंप प्रशासन ने बुधवार को कहा था कि उसका उद्देश्य उत्तरी कोरिया के परमाणु और मिसाइल कार्यक्रमों को रोकना है जो कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का उल्लंघन कर रहे हैं।

अमेरिकी टिप्पणी का जवाब देते हुए चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने कहा, ‘संयुक्त राज्य अमेरिका को कोरियाई प्रायद्वीप में स्थिरता और शांतिपूर्ण परमाणुकरण की तलाश है। इसी को ध्यान में रखते हुए हमारे सामने बातचीत के रास्ते खुले हुए हैं। हालांकि, हम स्वयं और अपने सहयोगियों का बचाव करने के लिए तैयार रहते हैं।’ चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि हमने हाल में ही देखा है कि कई अमेरिकी अधिकारियों ने कहा है कि वे कोरियाई परमाणु मुद्दे का बातचीत और विचार विमर्श के साथ शांतिपूर्वक समाधान चाहते हैं। हमें लगता है कि यह एक सकारात्मक संकेत है।

दरअसल उत्‍तर कोरिया से युद्ध की आशंकआओं के बीच अमेरिका का मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम ‘थाड’ दक्षिण कोरिया पहुंच चुका है। दक्षिण कोरिया के अधिकारियों का कहना है कि इस सिस्‍टम की तैनाती के लिए पिछले वर्ष ही दोनों देशों में रजामंदी हुई थी। हालांकि इस सिस्‍टम की तैनाती से युद्ध के आसार और बढ़ गए हैं। अमेरिका का कहना है कि उत्‍तर कोरिया द्वारा थोपी गई किसी भी विपरीत स्थिति के लिए इसको यहां पर तैनात किया जा रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *