तमिलनाडु में नई पॉलिटिक्स! मोदी से मिल सकते हैं रजनीकांत

यदि सवाल किया जाए कि क्या रजनीकांत राजनीति में शामिल होंगे और जवाब मिले कि राजनीति ही रजनीकांत में शामिल हो सकती है तो शायद आपको हैरानी न हो। रजनीकांत की लोकप्रियता को लेकर इस तरह की मजाकिया टिप्पणियां सोशल मीडिया पर आम हैं। बीते कुछ सालों में रजनीकांत के नाम और उनकी साख को बताने वाले ऐसे कई चुटकुले सोशल मीडिया पर चलते रहे हैं। लेकिन इस बार अभिनेता के राजनीति में जाने के सवाल पर गंभीर अटकलें चल रही हैं। रजनीकांत ने जिस तरह के संकेत दिए हैं, उसके मुताबिक वह सियासी रुख अख्तियार कर सकते हैं।

अगर यह सही हुआ तो तमिलनाडु की राजनीति में नए आयाम देखने को मिलेंगे। अपुष्ट खबरों के मुताबिक रजनीकांत जल्द प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलेंगे। पिछले सप्ताह अपने चहेते अभिनेता से मिलने यहां जमा हुए प्रशंसकों के बीच उस समय उत्साह देखने को मिला जब रजनीकांत ने उनसे कहा कि ‘जंग’ के लिए तैयार रहिए। इसे उनके राजनीति में जाने के संकेत के तौर पर देखा जा रहा है। दक्षिण भारत खासकर तमिलनाडु की राजनीति में कई फिल्मी कलाकार अपनी किस्मत आजमा चुके हैं।

स्वामी बोले,
महामूर्ख और अनपढ़ हैं रजनीकांत

अब लगता है कि मौजूदा दौर के सुपरस्टार रजनीकांत भी अपनी किस्मत आजमा सकते हैं। पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के निधन के बाद आई राजनीतिक शून्यता की स्थिति में रजनीकांत की यह टिप्पणी सही समय में की गई मानी जा रही है। रजनीकांत के प्रशंसकों को लगता है कि उनके ‘तलाइवा’ या नेता इस खालीपन को भर सकते हैं। हालांकि रजनीकांत के राजनीति में आने की संभावना को लेकर अन्य दलों के नेता इतने उत्साहित नहीं लगते। पूर्व केंद्रीय मंत्री और पीएमके नेता अंबुमणि रामदौस ने कहा, ‘तमिलनाडु को किसी अभिनेता की नहीं बल्कि पढ़े-लिखे इंसान की जरूरत है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *