बीएमसी में बढ़त की ओर शिवसेना-जश्न शुरू, बीजेपी पीछे

मुंबई: महाराष्ट्र में 10 नगर निगमों और 11 ज़िला परिषदों के लिए मंगलवार को डाले गए वोटों की गिनती जारी है. सबकी नज़रें बीएमसी के नतीजों पर टिकी हैं, जहां दो दशकों में पहली बार बीजेपी शिवशेना अलग-अलग चुनाव लड़ रही हैं. इसलिए कहा जा रहा है कि शिवसेना-बीजेपी दोनों की साख दांव पर है. हाल के दिनों में दोनों पार्टियां जिस तरह से एक-दूसरे पर हमलावर रही हैं, उससे देखकर यह लग रहा है कि स्थानीय निकाय के चुनावों के नतीजों का असर राज्य में चल रही साझा सरकार पर भी पड़ सकता है. वैसे में आज के नतीजे दोनों ही पार्टियों के लिए काफ़ी मायने रखते हैं. निकाय चुनावों के लिए इस बार रिकॉर्ड 56% मतदान हुआ था. मतदान करने वालों में राजनीतिज्ञ व बॉलीवुड के दिग्गज भी शामिल थे
शिवसेना के सूत्रों का दावा है कि पार्टी के आंतरिक सर्वेक्षण में उसे 202 में से 110 सीटें मिलने की संभावना है. उधर, बीजेपी के सूत्रों का कहना है कि उनकी पार्टी अपने दम पर 108 सीटें जीतने को लेकर आश्वस्त है. निकाय चुनावों में जीत के लिए ११४ सीटों की जरूरत है. महानगरपालिका की 1268 सीटों के लिए कुल 9,208 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला आज होगा. फिलहाल बीएमसी में शिवसेना के पास 89 सीटें, बीजेपी के पास 32, कांग्रेस के पास ५१ और एनसीपी के पास 14 सीटें हैं. थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *