कानून-व्यवस्था पर चौतरफा घिरी योगी सरकार, यूपी में गरम हुआ माहौल

मथुरा हत्याकांड के बाद से यूपी में माहौल गर्माया हुआ है. सड़क से विधानसभा तक योगी सरकार के खिलाफ आवाजें उठ रही हैं. कानून-व्यवस्था के सवाल पर हो रहे हमलों के बीच आज सीएम योगी आदित्यनाथ विधानसभा में इस मसले पर बयान देंगे. दूसरी तरफ पुलिस ने भरोसा दिया है कि मथुरा में सर्राफा व्यापारियों के हत्यारे 48 के अंदर सलाखों के पीछे होंगे.

पीड़ित परिवार इंसाफ की गुहार लगा रहा है. बुधवार को तो गुस्से में वे लोग भूख हड़ताल पर भी बैठ गए. उनका कहना था कि वे सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे हैं. अभी तक बदमाशों की गिरफ्तारी नहीं हुई है. लेकिन पुलिस के आश्वासन के बाद लोगों ने हड़ताल खत्म कर दी. वहीं, सर्राफा व्यापारियों इस वारदात के विरोध में आज राजव्यापी बंद का ऐलान किया है.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने का सपना दिखाया है. लेकिन अपराधियों के हौसले पस्त नहीं हुए हैं. मथुरा हत्याकांड उसकी मुनादि है. निगाहें सीएम योगी आदित्यनाथ पर टिकी हैं. योगी कानून व्यवस्था पर विधानसभा में बयान देंगे. सवाल ये है कि कानून व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कौन सा ब्लूप्रिंट सदन के सामने रखेंगे.

यूपी पुलिस के खिलाफ लोगों में गुस्सा
हालांकि, जिस पुलिस के दम पर योगी यूपी को अपराध मुक्त और भयमुक्त बनाने का सपना देख रहे हैं. उसी पुलिस के खिलाफ लोगों में भारी गुस्सा है. मथुरा में मारे गए सर्राफा व्यापारियों के परिवारवाले पुलिस की नाकामी के ख़िलाफ ही भूख हड़ताल पर बैठे थे. यूपी पुलिस की छवि लोगों की निगाह में कैसी है. सड़क से उठती आवाजों से समझा जा सकता है.

नाक की लड़ाई बना मथुरा हत्याकांड
मथुरा हत्याकांड यूपी पुलिस के लिए नाक की लड़ाई बन गया है. खुद सूबे के पुलिस मुखिया लोगों को यकीन दिला रहे हैं कि अपराधी जल्द सलाखों के पीछे होंगे. मथुरा हत्याकांड ने पुलिस पर लोगों के यकीन को हिला कर रख दिया है. लिहाजा कोई भी दिलासा लोगों की नाराज़गी दूर नहीं कर पा रहा है. गुस्सा जाहिर करने के लिए सर्राफा व्यापारी आज हड़ताल पर हैं.

सरकार को उठाने होंगे बड़े कदम
यूपी के चुनाव में कानून-व्यवस्था एक बड़ा मुद्दा था. यूपी की जनता ने प्रचंड बहुमत के साथ कानून-व्यवस्था को दुरुस्त करने का ज़िम्मा योगी आदित्यनाथ को सौंपा है. लिहाजा लोगों के इस भरोसे को कायम रखने के लिए सरकार को बड़े कदम उठाने होंगे और जल्द उठाने होंगे. सरे बाजार हुए इस हत्याकांड के बाद विपक्ष योगी सरकार को घेरने में लगा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *