प्रो कबड्डी नीलामी : नितिन टोमर सबसे महंगे खिलाड़ी, मनजीत चिल्लर को पछाड़ा

नई दिल्ली: प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आगामी पांचवें संस्करण के लिए हो रही खिलाड़ियों की नीलामी में नितिन तोमर सबसे महंगे खिलाड़ी बन कर उभरे हैं. उन्हें संस्करण की नई टीम यूपी ने 93 लाखों की भारी भरकम कीमत में खरीदा है. नीलामी के शुरुआती दौर में मंजीत चिल्लर सबसे महंगे खिलाड़ी रहे थे. उन्हें जयपुर पिंक पैंथर्स ने 75.5 की कीमत में खरीदा, लेकिन नीलामी के आखिरी चरण में जब रेडरों की बोली लगनी शुरू हुई तो नितिन ने सभी रिकार्ड तोड़ डाले और मंजीत को पछाड़ कर सबसे मंहगे खिलाड़ी बने. मंजीत को इसके बाज रोहित कुमार ने भी पछाड़ा. उन्हें बेंगलुरू बुल्स ने 83 लाख की कीमत में अपने साथ जोड़ा. के सेल्वामणि भी मंजीत को पछाड़ने के करीब पहुंच गए थे लेकिन जयपुर ने 73 लाख पर उनकी अंतिम बोली लगाई. पहले दौर में विदेशी खिलाड़ियों में सबसे महंगे बिकने वाले ईरान के अबोजार मोहाजेरमिघानी रहे.  ईरान के इस डिफेंडर को सीजन-5 में नजर आने वाली नई टीम गुजरात द्वारा 50लाख रुपये में खरीदा गया है.

इसके अलावा, ईरान के कबड्डी खिलाड़ी अबु फजल को दबंग दिल्ली ने 31.8 लाख रुपये में खरीद कर अपनी टीम में शामिल किया है. ईरान के ही फरहाज राहीमी को 29 लाख रुपये में तेलुगू टाइटंस ने खरीदा. थाईलैंड की कबड्डी टीम के कप्तान खोमसाम थोंगकम को हरियाणा स्टीलर्स ने 20.4 लाख रुपये खरीदा. यू-मुंबा ने कोरिया के डोंगजु होंग को 20 लाख रुपये, ईरान के हादी ओश्तोरोक को 18.6 लाख रुपये और कोरिया के ही युंग जुओ को 8.10 लाख रुपये में खरीदकर टीम में शामिल किया है. पुनेरी पल्टन ने बांग्लादेश के जियाउर रहमान को 16.6 लाख रुपये और जापान के ताकामित्सु कोनो को आठ लाख रुपये में खरीदा है. इसके अलावा, पटना पाइरेट्स ने ईरान के मोहम्मद मगसोदलोउ को आठ लाख रुपये में खरीदा, वहीं इस सीजन के लिए चार नई टीमों में शामिल उत्तर प्रदेश ने बांग्लादेश के सुलेमान कबीर को 12.6 लाख रुपये में खरीदा है.

सुरजीत बने सबसे महंगे डिफेंडर : बंगाल वॉरियर्स ने सीजन-5 के लिए नीलामी में डिफेंडर सुरजीत सिंह को 73 लाख रुपये में खरीद लिया। पिछले साल कबड्डी विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे सुरजीत को अपनी टीम में शामिल कर बंगाल का लक्ष्य अपने डिफेंस को मजबूत करना होगा. सुरजीत कबड्डी लीग के इतिहास में सबसे महंगे बिकने वाले दूसरे खिलाड़ी हैं. सुरजीत से पहले ऑलराउंडर मंजीत चिल्लर को जयपुर पिंक पैंथर्स ने बड़ा दांव लगाते हुए 75.5 लाख रुपये में खरीदा. कबड्डी लीग के पिछले चार सीजन में कुल 48 मैच खेल चुके पुनेरी पल्टन के डिफेंडर रहे रविंदर पहल को इस सीजन में बेंगलुरु बुल्स की टीम से खेलते देखा जाएगा. उन्हें बेंगलुरू ने 50 लाख रुपये में खरीद कर टीम में शामिल किया है.

इसके अलावा, कबड्डी लीग के तीन सीजन में यू-मुंबा और बंगाल वॉरियर्स के लिए खेल चुके डिफेंडर विशाल मणे को इस सीजन के लिए पटना पाइरेट्स ने 36.5 लाख रुपये में खरीदा है. पटना ने इसके अलावा अपने डिफेंस को और भी मजबूती देने के लिए सचिन शिंगड़े को 42.5 लाख रुपये में खरीदकर टीम में शामिल कर लिया है. पिछले दो संस्करणों में पटना पाइरेट्स के कप्तान के रूप में नजर आए धर्मराज चेरालाथन को पुनेरी पल्टन ने 46 लाख रुपये में खरीदा. वह पिछले साल विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के डिफेंडर और भारत की राष्ट्रीय कबड्डी टीम का प्रमुख हिस्सा रहे हैं. इसके अलावा, बंगाल वॉरियर्स के डिफेंडर गिरीश मारुति एरनाक को पुनेरी पल्टन ने 33.50 लाख रुपये में खरीद कर टीम में जोड़ा है, वहीं डिफेंडर जोगिंदर सिंह नरवाल को यू-मुंबा ने 25 लाख रुपये में और दबंग दिल्ली ने डिफेंडर नीलेश शिंदे को 35.5 लाख रुपये में खरीदा है. जीवा कुमार को 52 लाख में टीम यूपी ने खरीदा. जीवा सीजन-1 और चार में यु-मुम्बा के लिए खेले थे. उन्हें हासिल करने के लिए तमिलनाडु और जयपुर ने भी जोर लगाया था. मोहित चिल्लर को हरियाणा ने 46.5 लाख रुपये में खरीदा. मोहित की बोली 30 लाख से शुरू हुई थी. मोहित भी विश्व कप जीतने वाली टीम का हिस्सा रहे हैं. इससे पहले वह तेलुगू टाइटंस के लिए खेल चुके हैं. पिछली नीलामी की तुलना में मोहित को कम कीमत मिली.

सीजन एक और चार में जयपुर के लिए खेल चुके रोहित राणा को तेलुगू टाइटंस ने 27.5 लाख रुपये में खरीदा. सीजन चार में जयपुर के लिए खेलने वाले राइट कार्नर डिफेंडर अमित हुड्डा को तमिलनाडु ने 63 लाख रुपये में खरीदा. अमित डिफेंडरों में सबसे अधिक कीमत पाने वाले दूसरे खिलाड़ी रहे. दक्षिण कोरिया के जान कुंग ली को बंगाल वॉरियर्स ने अपनी टीम में 80.3 लाख रुपये में रिटेन किया है. लेकिन मोहित चिल्लर अभी भी इस नीलामी में सबसे महंगे बिकने वाले खिलाड़ी बने हुए हैं. उन्हें जयपुर पिंक पैंथर्स ने 75.5 लाख रुपये में खरीदा है. नितिन, रोहित के अलावा सोनू नरवाल भी छाए : रेडरों की सूची में सोनू नरवाल को हरियाणा ने 21 लाख रुपये में खरीदा. हरियाणा ने अंतिम समय में सोनू के लिए बोली लगाई.
सीजन-4 में जयपुर पिंक पैंथर्स के कप्तान रहे जसवीर सिंह को जयपुर ने ही 51 लाख रुपये में खरीदा. जयपुर ने अपने कप्तान को रीटेन नहीं किया. मनू गोयत को पटना पाइरेट्स ने 44.5 लाख रुपये में खरीदा. इसी तरह बीते सीजन में दिल्ली टीम के कप्तान रहे काशीलिंग अडाके को 48 लाख रुपये में यू मुम्बा ने खरीदा. सुरेश हेगड़े को गुजरात ने 31.5 लाख रुपये में खरीदा. यह प्रो कबड्डी के अब तक के सभी चार सीजन में तेलुगू टाइटंस के लिए खेले थे.

नितिन मदाने को यू मुम्बा ने 28.5 लाख रुपये में खरीदा. सीजन चार में पटना को खिताब जीत दिलाने में अहम योगदान निभाने वाले राजेश मोंडाल को पुनेरी पल्टन ने 42 लाख रुपये में खरीदा. बीते सीजन में जयपुर के लिए खेलने वाले अजय कुमार इस सीजन में बेंगलुरू बुल्स के लिए खेलेंगे. अजय को बेंगलुरू ने 48.5 लाख रुपये में अपने साथ जोड़ा. बीते सीजन में जयपुर के लिए खेल चुके केरल के अनुभवी खिलाड़ी शब्बीर बापू को यू मुम्बा ने 45 लाख में खरीदा. शब्बीर के रूप में मुम्बा ने तीसरा रेडर अपने साथ जोड़ा. इसी तरह हरियाणा ने सुरजीत सिंह को 42.5 लाख में अपने साथ जोड़ा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *