Editor’s Pick

बिहार के वैशाली हादसे में शामिल ट्रक ड्राइवर नशे में धुत था, बोला- 40 रुपये की देसी शराब पी थी । bihar vaishali truck accident truck driver was drunk

Image Source : PTI
नशे में था ट्रक ड्राइवर

पटना: बिहार के वैशाली जिले के देसरी थाना अंतर्गत सुल्तानपुर गांव के पास रविवार की रात भीषण सड़क हादसा हो गया। यहां शादी समारोह से पैदल लौट रहे लोगों को एक तेज रफ्तार ट्रक ने रौंद दिया। हादसे में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई और कई लोग गंभीर रूप से घायल हैं जिनका अस्पताल में इलाज जारी है। वहीं, आपको बता दें कि ट्रक चढ़ाने वाले ड्राइवर ने 40 रुपये ग्लास देशी शराब पी रखी थी। यह खुलासा उसने खुद किया। ट्रक ड्राइवर लालू कुमार के अनुसार उसने जदुआ में 40 रुपये प्रति ग्लास के हिसाब से देसी शराब पी थी। जिला प्रशासन ने आरोपी का मेडिकल परीक्षण कराया और डॉक्टरों ने उसके खून में 45 फीसदी अल्कोहल पाया है।

दूसरे ट्रक को ओवरटेक करने की कोशिश में हुआ हादसा


ट्रक ड्राइवर ने बताया कि वह हाजीपुर से ट्रक लेकर महनार की तरफ लेकर जा रहा था। इससे पहले उसने जदुआ में कुछ ट्रक ड्राइवरों के साथ देसी शराब पी। दूसरे ट्रक को ओवरटेक करने की कोशिश में यह हादसा हो गया। ड्राइवर की मेडिकल रिपोर्ट में मेडिकल ऑफिसर ने साफ-साफ लिखा है कि ट्रक ड्राइवर नशे में था। इतने नशे में था कि अपने पैरों पर चल नहीं पा रहा था। ड्राइवर ने नशे में ही इस बड़े हादसे को अंजाम दिया।

टक्कर के बाद स्टेयरिंग में फंसा ड्राइवर

राज्य की राजधानी पटना से लगभग 30 किलोमीटर दूर वैशाली जिले के देसरी थाना क्षेत्र के सुल्तानपुर गांव में यह हादसा रात करीब 9 बजे उस समय हुआ जब लोग एक स्थानीय देवता “भूमिया बाबा” की पूजा करने के लिए सड़क के किनारे एक “पीपल” के पेड़ के सामने एकत्र हुए थे। लोगों को टक्कर मारने के बाद ट्रक पीपल के पेड़ से जा टकरा गया जिससे ट्रक का ड्राइवर घायल अवस्था में स्टीयरिंग में फंस गया जिसे मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने निकाला। घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से सभी को घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। इस घटना के बाद मौके पर चीख पुकार मच गई। हादसे के बाद सड़क पर लोगों के शव पड़े दिखे।

ट्रक के आगे के हिस्से के पूरे परखच्चे उड़ गए

हादसा इतना भयानक था ट्रक के आगे के हिस्से के पूरे परखच्चे उड़ गए हैं। घटना के बाद लोगों ने सड़क पर शव रखकर कार्रवाई की मांग की। स्थानीय राजद विधायक मुकेश रौशन ने मौके पर पहुंचकर कहा, ‘‘12 लोगों की मौत हो गई है। नौ लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीन अन्य ने अस्पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया।’’

सड़क किनारे खड़े होकर बिलखते दिखे लोग

वैशाली के पुलिस अधीक्षक मनीष कुमार ने कहा, “शादियों से जुड़े रिवाज के तहत बारात निकाली गई थी। पास के सुल्तानपुर गांव निवासी एक व्यक्ति के घर कुछ दिनों में शादी तय थी। बगल के महनार-हाजीपुर हाईवे पर तेज गति से आ रहे ट्रक के चालक ने नियंत्रण खो दिया।’’ इस घटना के बाद इलाके में अफरा-तफरी मच गई, अपनों को खोने वाले सड़क किनारे खड़े होकर बिलखते दिखे। कई अन्य लोगों ने गुस्से में नारेबाजी करते हुए आरोप लगाया कि पुलिस काफी देर से पहुंची। पुलिस अधीक्षक ने कहा, “हमने बचाव कार्य में तेजी लाने और कानून व्यवस्था की स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए आसपास के कई थानों से पुलिसकर्मियों को बुलाया गया है।”

CM नीतीश का मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये देने का ऐलान

वहीं वैशाली हादसे पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक जाहिर किया है। पीएम मोदी ने हादसे में मारे गए लोगों के परिवारवालों को  2 लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये देने का ऐलान किया। वहीं वैशाली की घटना पर सीएम नीतीश कुमार ने भी संवेदना जाहिर की। सीएम ने मरने वालों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये देने का ऐलान किया। साथ ही घायलों के इलाज के लिए निर्देश दिए और उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।




Source link

Related Articles

Back to top button