Editor’s Pick

मैनपुरी उपचुनाव में जीत का दावा, डिप्टी CM ने कसा तंज, बोले- पूरा ‘सैफई परिवार’ एकजुट, क्या बनाएंगे बहाने? BJP claim victory in Mainpuri by-election Keshav Prasad Maurya said entire Saifai family uni

Image Source : FILE PHOTO
उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य

Mainpuri By-Election: समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई  मैनपुरी लोकसभा सीट पर उपचुनाव को लेकर इस वक्त उत्तर प्रदेश की सियासत गरम है। मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र सपा का गढ़ रहा है और बीजेपी इसे जीतने की पूरी कोशिश कर रही है। इसे लेकर उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सपा और अखिलेश यादव पर तंज किया है।

 इस बार कमल खिलना तय है: केशव प्रसाद मौर्य

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, “पूरा सैफई परिवार एकजुट हो गया है, लेकिन कुछ भी कर लें, इस बार कमल खिलना तय है। मैनपुरी ने सबसे ज्यादा इनकी गुंडई देखी है। इस बार लोग विकास के लिए कमल खिलाएंगे। साइकिल को वोट मतलब दंगे को वोट, इसलिए यूपी की जनता जगरूक है, हम लोग जाती धर्म की राजनीति नहीं करते हैं, सर्व समाज का विकास हमारा लक्ष्य है। सपा के लोग चुनाव के बाद क्या बहाने बनाएंगे इसकी प्रैक्टिस उन लोगों ने अभी से शुरू कर दी है।” उन्होंने कहा कि 45 लाख प्रधानमंत्री आवास की स्वीकृति फिर से हुई है, पक्के मकान लोगों को हम देने जा रहे हैं।

उपचुनाव में बीजेपी के हाथों हार का डर सता रहा: त्यागी

बीजेपी के विधान परिषद के सदस्य और मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव के प्रभारी अश्वनी त्यागी ने समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के परिवार पर तंज कसते हुए बुधवार को दावा किया कि हार के डर से पूरे ‘सैफई परिवार’ को वोटरों के दरवाजे पर दस्तक देनी पड़ रही है। प्रदेश के पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह के साथ मैनपुरी में उपचुनाव की निगरानी कर रहे प्रदेश बीजेपी महासचिव त्यागी ने कहा कि इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है जब पूरा ‘सैफई परिवार’ किसी चुनाव में एक दरवाजे से दूसरे दरवाजे तक घूम रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए है कि उसे उपचुनाव में बीजेपी के हाथों पराजय का डर सता रहा है। 

भाजपा विधान परिषद के सदस्य त्यागी अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री कार्यकाल का जिक्र करते हुए कहा कि सपा के शासनकाल में उत्तर प्रदेश में अपहरण, भ्रष्टाचार, रंगदारी, वसूली, जमीनों पर अवैध कब्जों का बड़ा उद्योग चल रहा था और युवाओं का भविष्य खराब हो रहा था। उन्होंने कहा कि सपा के राज में महिलाओं की सुरक्षा एक बहुत बड़ा मुद्दा था और गैंगरेप की वारदात आम हो चुकी थीं। 

‘बीजेपी के सत्ता में आते ही अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई’

त्यागी ने कहा कि बीजेपी के सत्ता में आते ही अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई और सभी नागरिकों को बिना किसी भेदभाव के सम्मान और सुरक्षा का माहौल दिया गया, खासतौर पर महिलाओं और बच्चियों की सुरक्षा पर ध्यान दिया गया। यही वजह है कि आज वे देर रात में भी बिना किसी डर के घर से बाहर निकल सकती हैं। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश की कानून-व्यवस्था बेहतर होने की वजह से देश-विदेश के बड़े उद्योगपति अब राज्य में निवेश करने को तैयार हैं। इससे युवाओं को रोजगार के बेहतर अवसर मिलेंगे।

मुलायम सिंह के निधन की वजह से खाली हुई है मैनपुरी सीट

गौरतलब है कि मैनपुरी लोकसभा सीट सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के निधन की वजह से खाली हुई है। इस सीट के लिए उपचुनाव के लिए आगामी 5 दिसंबर को वोटिंग होगी। सपा ने उपचुनाव में मुलायम की बहू और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को उम्मीदवार बनाया है। वहीं, बीजेपी ने रघुराज शाक्य को प्रत्याशी बनाया है। इटावा स्थित मुलायम का पुश्तैनी गांव सैफई मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र का ही हिस्सा है। 

Latest Uttar Pradesh News




Source link

Related Articles

Back to top button