Monday, April 15, 2024

Top 5 This Week

Related Posts

रवींद्र जडेजा क्यों निशाने पर हैं? नंबर 5 पर फ्लॉप होने की वजह सामने आई

<p style="text-align: justify;">IND Vs ENG: रांची टेस्ट में नंबर 5 की पोजिशन पर खेलते हुए स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा बुरी तरह से फ्लॉप रहे. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक ने जडेजा के फेल होने की वजह को बयां किया है. कुक का मानना है कि जडेजा तय ही नहीं कर पाए कि उन्हें अटैक करना चाहिए या फिर डिफेंस के साथ खेलना चाहिए. हालांकि ध्रुव जुरेल ने बेहतरीन प्रदर्शन से कुक को मुरीद बना लिया है. कुक का कहना है कि जुरेल ने भारत को रांची टेस्ट में संकट से बाहर निकाला.</p>
<p style="text-align: justify;">विराट कोहली और केएल राहुल के नहीं खेलने की वजह से जडेजा को नंबर 5 पर प्रमोट किया गया है. रांची में जडेजा 12 और 4 रन की पारी ही खेल पाए. कुक ने जडेजा के खेल की आलोचना की है. कुक ने कहा, ”जडेजा को नीचे ही बल्लेबाजी करनी चाहिए. रांची टेस्ट के बाद यह अच्छी तरह से साफ हो गया है कि जडेजा को ज्यादा ऊपर बल्लेबाजी नहीं करनी चाहिए. जडेजा के पास रन बनाने की क्षमता है. लेकिन जब प्रेशर की स्थिति होती है तो जडेजा तय नहीं कर पाते कि अटैकिंग क्रिकेट खेली जाए या फिर डिफेंसिव.”</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>जुरेल ने खेली बेहतरीन पारी</strong></p>
<p style="text-align: justify;">हालांकि कुक ने जडेजा को वर्ल्ड क्लास ऑलराउंडर बताया. कुक ने कहा, ”जडेजा नंबर एक ऑलराउंडर है. लेकिन वह नंबर 5 पर बल्लेबाजी नहीं कर सकते. जडेजा रिस्क नहीं लेते हैं. जडेजा की वजह से दूसरे खिलाड़ी पर प्रेशर आ जाता है. जुरेल अलग हैं. जुरेल के पास बैलेंस है. वह शानदार खिलाड़ी हैं.”</p>
<p style="text-align: justify;">बता दें कि रांची टेस्ट में जुरेल टीम इंडिया के लिए जीत के हीरो साबित हुए. जुरेल ने पहली पारी में 90 रन की पारी खेली. दूसरी पारी में जुरेल ने नाबाद 39 रन बनाए. जुरेल को प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब भी मिला. जुरेल की बदौलत भारत ने रांची में ही 5 टेस्ट मैचों की सीरीज 3-1 से नाम कर ली. सीरीज का आखिरी मुकाबला 7 मार्च से धर्मशाला में खेला जाना है.</p>
<p style="text-align: justify;">&nbsp;</p>

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular Articles