Tuesday, May 28, 2024

Top 5 This Week

Related Posts

रेप के बाद शादी, कानून की नजर में कितना सही Marriage after rape, how right is it in the eyes of law? – News18 हिंदी

Is Marriage Enough to Quash Rape Charges: यह मामला 40 साल पुराना है, लेकिन दाऊद बंदू खान के गले का फंदा बन गया है. दाऊद को 1984 में अपने पड़ोस में रहने वाली एक नाबालिग लड़की से प्यार हो गया. उनका यह रिश्ता उनकी 17 वर्षीय प्रेमिका की मां को मंजूर नहीं था. लड़की की मां ने दाऊद खान के खिलाफ मुंबई के डीबी मार्ग पुलिस थाने में रेप और अपहरण की शिकायत दर्ज कराई. दाऊद खान को गिरफ्तार कर लिया गया. हालांकि दाऊद खान किसी तरह जमानत पाने में सफल रहे और जेल से बाहर आ गए. अपनी प्रेमिका के बालिग होने पर उन्होंने उससे शादी रचा ली. शादी के बाद वह आगरा चले गए जहां उनके चार बच्चे भी हुए.

लेकिन अभी कहानी में असली ट्विस्ट बाकी था. अब मुंबई पुलिस ने अपहरण और रेप के मामले में पिछले 40 सालों से फरार चल रहे दाऊद खान को आगरा (उत्तर प्रदेश) से गिरफ्तार कर लिया है. मुंबई की कोर्ट ने जनवरी 2020 में पेश होने में नाकामयाब रहने पर दाऊद खान को भगोड़ा घोषित कर दिया था. अब 70 साल के हो गए दाऊद बंदू खान ने उस समय एक बड़ी गलती कर दी थी जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ रहा है. उन्होंने पुलिस और कोर्ट को अपनी शादी और सास के साथ हुए समझौते की जानकारी नहीं दी थी और आगरा चले गए थे. अब आरोपी की पत्नी और सास इस दुनिया में नहीं हैं. ऐसे में उनके खिलाफ दर्ज की गई शिकायत वापस लेने वाला भी कोई नहीं है. लिहाजा अब उन्हें रेप के आरोपी के तौर पर अदालत का सामना करना पड़ेगा. उनकी बेगुनाही साबित करने वाला कोई भी दुनिया में नहीं है.

सुलह के बारे में कोर्ट को बताना चाहिए था
इंडियन एक्सप्रेस में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, दाऊद खान के पहले बच्चे का जन्म मुंबई में ही हुआ था. लेकिन उसके बाद ये दंपती किसी को बताये बिना आगरा चले गए और वहीं बस गए. एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि आगरा जाने से पहले इस जोड़े को पुलिस और कोर्ट को सूचित करना चाहिए था कि मामला अब सुलझ गया है और दोनों ने शादी रचा ली है. लेकिन दाऊद खान ने खुद ही मान लिया कि उसने अब लड़की (मामले में पीड़िता) से शादी कर ली है इसलिए केस रफा-दफा हो गया. लेकिन इस दौरान कोर्ट उनके नाम समन जारी करती रही और वो पेश होने में विफल होते रहे. नतीजा यह रहा कि 40 साल बाद दाऊद खान को जेल की हवा खानी पड़ी.

ये भी पढ़ें- क्‍या धरती पर खत्‍म होने वाला है जीवन? इंसान ने पार कर दीं 7 हदें, कौन-सी हैं पृथ्‍वी की सुरक्षा की 8 लेयर्स

क्या कहना है दिल्ली हाईकोर्ट का?
दाऊद खान के मामले को मद्देनजर रखते हुए ये जानने की कोशिश करते हैं कि आखिर कानून इस पर क्या कहता है. हालांकि कानून का रुख इस मामले में एकदम स्पष्ट है कि रेप जैसे जघन्य अपराध को माफ नहीं किया जा सकता. ना ही आरोपी को केवल इस आधार प