Monday, April 15, 2024

Top 5 This Week

Related Posts

IPL 2024: IPL से अपनी नेशनल टीम में पहुंचे हैं ये खिलाड़ी, आज हैं इंटरनेशनल क्रिकेट के बड़े स्टार

IPL 2024: आईपीएल की शुरुआत 2008 में हुई थी और उस समय शायद इस लीग के संस्थापकों ने भी नहीं सोचा होगा कि ये दुनिया की सबसे बड़ी स्पोर्ट्स लीग्स में से एक बन जाएगी. इंडियन प्रीमियम लीग आज फेम पाने और खूब पैसे कमाने का साधन बन चुका है. कुछ ऐसे खिलाड़ी भी हैं जिन्होंने आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करने के दम पर नेशनल टीम के सिलेक्टर्स का ध्यान अपनी ओर खींचा था. यहां आइए जानते हैं उन 5 खिलाड़ियों के बारे में जिन्होंने आईपीएल के दम पर भारतीय टीम में जगह बनाई थी.

1. रिंकू सिंह

रिंकू सिंह के अभी तक के करियर को देखकर ऐसा लगता है जैसे रातों-रात उनकी किस्मत बदल गई है. रिंकू 2018 से कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के लिए खेल रहे हैं और उनकी आक्रामक तरीके की बल्लेबाजी निरंतर आकर्षण का केंद्र बनी रही. विशेष रूप से आईपीएल 2023 में यश दयाल की गेंदों पर 5 छक्के लगाकर कोलकाता को गुजरात टाइटंस के खिलाफ जिताने वाली पारी ने रिंकू को बहुत बड़ा स्टार बना दिया था. उन्होंने अगस्त 2023 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया. रिंकू को हालांकि अभी तक वनडे मैचों में ज्यादा मौके नहीं मिले हैं, लेकिन अभी तक 15 टी20 मैचों में भारत के लिए 89 के बेहतरीन औसत से 356 रन बना चुके हैं. उन्हें टी20 वर्ल्ड कप के स्क्वाड में एक फिनिशर के रूप में भी चुना जा सकता है.

2. केएल राहुल

केएल राहुल ने साल 2014 में अपना अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट डेब्यू किया था, लेकिन शुरुआत में निरंतर अच्छा ना करने के कारण उनकी खूब आलोचना हो रही थी. उन्होंने चोट के कारण आईपीएल 2017 सीजन को मिस कर दिया था, ऐसे में उनकी नेशनल टीम में जगह पर भी सवाल खड़े होने लगे थे. उन्होंने 2018 के सीजन में पंजाब किंग्स के लिए 54.91 की औसत से 691 रन ठोक डाले थे. इस सीजन के बाद उनकी नेशनल टीम में वापसी हुई, जिसके कुछ ही दिनों बाद उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ टी20 मैच में शतक ठोक दिया था. ऐसा कहना गलत नहीं होगा कि 2018 आईपीएल सीजन ने राहुल के नेशनल करियर को भी संवारने में अहम योगदान दिया था.

3. युसुफ पठान

युसुफ पठान ने 2007 टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ अपना अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट डेब्यू किया था, जिसमें उन्होंने 8 गेंद में 15 रन बनाए थे. उससे अगले साल आईपीएल शुरू हुआ और पहले ही सीजन में उन्होंने 435 रन बनाए थे. वो सीजन में 179 से अधिक के स्ट्राइक रेट से खेलने के कारण सिलेक्टर्स का ध्यान अपनी ओर खींच पाए. उन्होंने 2008 आईपीएल के फाइनल में CSK के खिलाफ 39 गेंद में 56 रन की अहम पारी खेली थी. उसके कुछ समय बाद ही उन्हें नेशनल टीम में जगह मिली, जहां वो एक विस्फोटक बल्लेबाज के रूप में उभर कर सामने आए.

4. रवींद्र जड़ेजा

रवींद्र जड़ेजा 2008 में अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप में विजेता रही भारतीय टीम का हिस्सा रहे थे. उस सीजन के बाद उन्हें आईपीएल 2008 में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलने का मौका मिला. जड़ेजा के बल्ले से लगातार रन निकल रहे थे और सीजन दर सीजन उनकी गेंदबाजी भी बेहतर होती जा रही थी. आईपीएल के अच्छे प्रदर्शन के बाद उन्हें 2009 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम में चुना गया था. विशेष रूप से 2012 में CSK में आने के बाद उनका अंतर्राष्ट्रीय करियर नई उड़ान भरने लगा था.

5. युजवेंद्र चहल

युजवेंद्र चहल ने साल 2016 में भारतीय क्रिकेट टीम के लिए डेब्यू किया था. उससे 3 साल पहले यानी 2013 में उन्होंने मुंबई इंडियंस के लिए अपना आईपीएल डेब्यू किया, जिसमें वो अच्छा नहीं कर पाए थे. 2014 में उन्होंने RCB को जॉइन किया, लेकिन उनकी प्रतिभा पूरी तरह 2015 में निखर कर सामने आई. 2015 के शानदार प्रदर्शन के बाद ही उन्हें 2016 में जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए चुना गया था.

यह भी पढ़ें: ऋषभ पंत IPL 2024 में खेलेंगे या नहीं? BCCI ने अहम जानकारी देकर किया खुलासा

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular Articles