Sunday, February 25, 2024

Top 5 This Week

Related Posts

Pakistani people are biggest asset of India claims Congress leader Mani Shankar Aiyar at Faiz Festival in Lahore | Mani Shankar Aiyar on Pakistan: मणिशंकर अय्यर का फिर दिखा PAK प्रेम, बोले

Mani Shankar Aiyar on Pakistan: कांग्रेस के सीनियर नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर ने पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के लोगों की तारीफ की है. रविवार (11 फरवरी, 2024) को लाहौर के फैज फेस्टिवल में उन्होंने पाकिस्तानियों को हिंदुस्तान की ‘सबसे बड़ी संपत्ति’ करार दिया. ‘हिज्र की राख, विसाल के फूल, इंडो-पाक अफेयर्स’ नाम के सेशन में उन्होंने यह भी बताया कि वह आज तक ऐसे किसी देश नहीं गए जहां पर उनका इस तरह से बाहें फैलाकर स्वागत (पाक के संदर्भ में) किया गया हो.  

पाकिस्तानी अखबार डॉन की खबर के हवाले से समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया, “मेरे अनुभव से पाकिस्तान के लोग उस तरह के होते हैं जो दूसरे लोगों के साथ ओवररिएक्ट करते हैं. अगर हम उनके साथ दोस्ताना हैं तब वह अत्यधिक मित्रता वाला रवैया अपनाएंगे और अगर हम उनके साथ दुश्मनी दिखाएंगे तब वे और भी शत्रुता दिखाएंगे.”  

Indians की सोच से बिल्कुल अलग है Pakistan- अय्यर

कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस नेता ने उस दौर का किस्सा भी साझा किया जब वह डिप्लोमैट थे और उनकी पोस्टिंग कराची में कॉन्सुल जनरल की थी. उन्होंने कहा- ‘मेमॉइर्स ऑफ मैवरिक’ किताब मैं मैंने कई किस्सों का जिक्र किया है जो बताते हैं कि हिंदुस्तान के लोग जैसा सोचते हैं, पाकिस्तान उससे बिल्कुल अलग मुल्क है. 

Narendra Modi और वोटों का जिक्र कर कही यह बात

मणिशंकर अय्यर के हवाले से अखबार की रिपोर्ट में आगे बताया गया, “मैं लोगों (पाकिस्तान के) से यही कहना चाहता हूं कि वे याद रखें कि नरेंद्र मोदी ने कभी एक तिहाई से अधिक वोट हासिल नहीं किए मगर हमारी व्यवस्था ऐसी है कि अगर कोई दल इतने वोट हासिल कर लेता है तब उसकी दो-तिहाई सीटें हो सकती हैं. ऐसे में दो तिहाई भारतीय आप लोगों (पाकिस्तानियों के संदर्भ में) की तरफ बढ़ना चाहते हैं.”

“नासमझी ही होगी कि Hindutva की तरफ झुकाव रखने वाले…”

अक्सर बयानों के चलते विवादों में रहने वाले नेता ने इसके अलावा दोनों मुल्कों के बीच फिर से संवाद की बात देने पर बल दिया. मणिशंकर अय्यर बोले कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में मौजूदा सरकार ने पाकिस्तान के साथ बातचीत न करने का फैसला लेकर बड़ी गलती की है. उनके अनुसार, यह उम्मीद करना नासमझी ही होगी कि भारत में हिंदुत्व की तरफ झुकाव रखने वाले लोग पाकिस्तान से बात करना चाहेंगे.
  

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular Articles