Monday, April 15, 2024

Top 5 This Week

Related Posts

Palestinian activist slashes painting of Arthur James Balfour who announced home for Jewish in Palestine

Arthur James Balfour Painting: इजरायल और हमास के बीच जारी युद्ध के दौरान शुक्रवार (8 मार्च) को एक फिलिस्तीनी समर्थक ने ब्रिटेन के दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री आर्थर जेम्स बालफोर की सन 1914 की पेंटिंग पर लाल रंग से स्प्रे करने के बाद उसे काट दिया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह घटना कैंब्रिज विश्वविद्यालय के ट्रिनिटी कॉलेज में घटी.

कौन थे आर्थर जेम्स बालफोर?

आर्थर जेम्स बालफोर को लॉर्ड बालफोर के नाम से भी जाना जाता है. उन्होंने 1902 से 1905 तक ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के रूप में कार्य किया था और लॉयड जॉर्ज के प्रधानमंत्री कार्यकाल के दौरान विदेश मंत्री के रूप में कार्य करते हुए कैबिनेट की ओर से 1917 में बालफोर समझौते का घोषणा की थी, जिसमें फिलिस्तीन में यहूदी लोगों के लिए घर का समर्थन किया गया था. कुछ इतिहासकार इसे अरब-इजरायल संघर्ष के शुरुआती बिंदु के रूप में देखते हैं.

घटना पर मिली-जुली प्रतिक्रियाएं दे रहे इंटरनेट यूजर्स

बालफोर की पेंटिंग को नष्ट करने की घटना पर इंटरनेट पर मिलीजुली प्रतिक्रियाएं देखने का मिल रही हैं. कुछ यूजर्स ने ऐसे कृत्य के खिलाफ कठोर कदम उठाने की वकालत की है तो कुछ ने इसे सही ठहराया है. एक यूजर ने कहा कि ऐसे प्रदर्शकारियों को जेल में डाल देना चाहिए, वहीं एक यूजर ने कहा कि अब यह कला है.

फिलिस्तीन एक्शन नामक एक्स हैंडल ने कहा कि उसके एक कार्यकर्ता ने इस पेंटिंग को नष्ट कर दिया. हैंडल ने इस घटना पर एक पोस्ट में हैशटैग #BritainIsGuilty (ब्रिटेन दोषी है) लिखा. इस हैंडल से एक और पोस्ट में घटना का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा गया, ”1917 में की गई बालफोर घोषणा ने जमीन छीनने का वादा करके फिलिस्तीन के जातीय सफाए को शुरू किया, जिसे करने का अधिकार अंग्रेजों को कभी नहीं था.”

कैंब्रिजशायर पुलिस कर रही छानबीन

कैंब्रिज इंडिपेंडेंट की रिपोर्ट के मुताबिक, जैसे ही पेंटिंग को नष्ट करने का वीडियो इंटरनेट पर आया, कैंब्रिजशायर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची. ट्रिनिटी कॉलेज के प्रवक्ता ने एक बयान जारी किया, जिसमें कहा गया कि सार्वजनिक घंटों के दौरान आर्थर जेम्स बालफोर के चित्र को नुकसान पहुंचाया गया. कैंब्रिजशायर पुलिस ने कहा कि उसे 8 मार्च की दोपहर को ऑनलाइन रिपोर्ट प्राप्त हुई थी और अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

यह भी पढ़ें- Pentagon Report on UFO: एलियंस पर US का सबसे बड़ा खुलासा, 1950-60 में दिखने वाले UFO थे अमेरिकी प्लेन

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular Articles