Editor’s Pick

Wrestler Fell In Love With A Minor, Prayed To The High Court For Protection After Marrying In The Mosque – Haryana: पहलवान को हुआ दूसरे धर्म की नाबालिग से प्यार, निकाह कर सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट से लगाई गुहार

सांकेतिक तस्वीर (Nikaah, निकाह)
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

हरियाणा के चरखी दादरी निवासी 27 वर्षीय पहलवान को 16 साल की भोपाल निवासी मुस्लिम पहलवान से प्यार हो गया और दोनों ने पंजाब के जिला मोहाली के नयागांव में निकाह कर सुरक्षा के लिए पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट से गुहार लगाई है। याचिका दाखिल करते हुए जोड़े ने बताया कि लड़की मुस्लिम समुदाय से है और यौन परिपक्वता प्राप्त कर चुकी है।

मुस्लिम समुदाय में यौन परिपक्वता के बाद नाबालिग होते हुए भी विवाह वैध है। दोनों ने नयागांव में मुस्लिम रीति रिवाज से निकाह किया है। हालांकि इस निकाह से लड़की के घरवाले खुश नहीं हैं। याची लड़की के परिवार वालों को मिल गए तो वे उन्हें जान से मार देंगे। याची ने बताया कि लड़की की मॉल में दुकान से आने वाले किराए से अच्छी आमदनी है और जीवन के गुजारे का उचित इंतजाम है।

याची ने कहा कि संविधान प्रत्येक नागरिक को जीवन और सुरक्षा का अधिकार देता है और ऐसे में हाईकोर्ट उनके इस अधिकार को सुनिश्चित करने का हरियाणा सरकार को आदेश दे। याची ने कहा कि लड़की के घर वाले इस बात से नाराज हैं कि लड़की ने धर्म से बाहर जाकर विवाह किया है। भोपाल पुलिस भी जोड़े की तलाश कर रही है।

याची ने बताया कि वह पांच माह पहले एक खेल कार्यक्रम में मिले थे और वहीं पर दोनों को प्यार हो गया। लड़की के माता-पिता उसका विवाह उसकी इच्छा के खिलाफ किसी अन्य से करवाना चाहते थे इसलिए उसने अपना घर छोड़ प्रेमी के पास आने का फैसला लिया था। हाईकोर्ट ने मामले में लड़की के परिजनों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। साथ ही हरियाणा पुलिस से जोड़ी की सुरक्षा को लेकर रिपोर्ट तलब  कर ली है।

विस्तार

हरियाणा के चरखी दादरी निवासी 27 वर्षीय पहलवान को 16 साल की भोपाल निवासी मुस्लिम पहलवान से प्यार हो गया और दोनों ने पंजाब के जिला मोहाली के नयागांव में निकाह कर सुरक्षा के लिए पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट से गुहार लगाई है। याचिका दाखिल करते हुए जोड़े ने बताया कि लड़की मुस्लिम समुदाय से है और यौन परिपक्वता प्राप्त कर चुकी है।

मुस्लिम समुदाय में यौन परिपक्वता के बाद नाबालिग होते हुए भी विवाह वैध है। दोनों ने नयागांव में मुस्लिम रीति रिवाज से निकाह किया है। हालांकि इस निकाह से लड़की के घरवाले खुश नहीं हैं। याची लड़की के परिवार वालों को मिल गए तो वे उन्हें जान से मार देंगे। याची ने बताया कि लड़की की मॉल में दुकान से आने वाले किराए से अच्छी आमदनी है और जीवन के गुजारे का उचित इंतजाम है।

याची ने कहा कि संविधान प्रत्येक नागरिक को जीवन और सुरक्षा का अधिकार देता है और ऐसे में हाईकोर्ट उनके इस अधिकार को सुनिश्चित करने का हरियाणा सरकार को आदेश दे। याची ने कहा कि लड़की के घर वाले इस बात से नाराज हैं कि लड़की ने धर्म से बाहर जाकर विवाह किया है। भोपाल पुलिस भी जोड़े की तलाश कर रही है।

याची ने बताया कि वह पांच माह पहले एक खेल कार्यक्रम में मिले थे और वहीं पर दोनों को प्यार हो गया। लड़की के माता-पिता उसका विवाह उसकी इच्छा के खिलाफ किसी अन्य से करवाना चाहते थे इसलिए उसने अपना घर छोड़ प्रेमी के पास आने का फैसला लिया था। हाईकोर्ट ने मामले में लड़की के परिजनों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। साथ ही हरियाणा पुलिस से जोड़ी की सुरक्षा को लेकर रिपोर्ट तलब  कर ली है।




Source link

Related Articles

Back to top button